मानवता की सेवा ही सऊदी अरब की पहचान है:- शेख बद्र बिन नासिर अल अंजी

ताज़ा खबर नेपाल बॉर्डर स्पेशल विदेश शिक्षा समाज

देश के सर्वांगीण विकास के लिए समानता जरूरी है: मंत्री वसीउद्दीन खान


सग़ीर ए खाकसार


सिद्धार्थनगर,25 फरवरी,2022।इण्डो नेपाल पोस्ट


शिक्षा के ज़रिए ही समाज मे बदलाव संभव है।किसी भी राष्ट्र के विकसित और संपन्न होने के लिए उसके नागरिकों का शिक्षित होना ज़रूरी है।सऊदी अरब दुनिया भर में अपनी मानवीय सेवाओं,ज़रूरत मन्दो की मदद,और अपने सामाजिक सरोकारों को पूरा करने के लिए एक विशिष्ट पहचान रखता है।


यह विचार शेख बद्र बिन नासिर अल अंजी ने व्यक्त किया।शेख बद्र सऊदी अरब के शिक्षा विभाग से आबद्ध हैं वो नेपाल के कृष्णनगर स्थित प्रतिष्ठित शिक्षण संस्था जामिया सिराजुल उलूम में आयोजित एक शैक्षणिक प्रोग्राम को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि समाज के आखिरी पायदान के लोगों को शिक्षा की मुख्यधारा में लाना होगा।गुणवत्तापूर्ण शिक्षा से व्यक्तित्व का विकास होता है।देश व समाज की प्रगति के लिए आधुनिक व तकनीकी शिक्षा बहुत ज़रूरी है।


इस अवसर पर लुम्बिनी प्रदेश के  शिक्षा, विज्ञान, युवा और खेल कूद  मंत्री वसीउद्दीन खान ने कहा कि मुख्यमंत्री कुल प्रसाद केसी ने भौतिक और शैक्षणिक सुविधाओं सहित मदरसा शिक्षा पर प्राथमिकता के साथ ध्यान केंद्रित करने का निर्देश दिया है।


वसीउद्दीन खान ने कहा है कि देश के सर्वांगीण विकास के लिए समानता जरूरी है। जब तक आर्थिक, शैक्षिक और राजनीतिक समानता नहीं होगी तब तक कोई बदलाव नहीं होगा।सामजिक बदलाव के लिए मुस्लिम समुदय को शिक्षा की मुख्यधारा में लाना होगा।


   राष्ट्रीय मदरसा संघ नेपाल के अध्यक्ष व जाने माने इस्लामिक स्कॉलर डॉ  अब्दुल गनी अल कुफी ने कहा कि मदरसों को शिक्षा की मुख्यधारा में लाने के लिए संघ प्रयासरत है। महासचिव मौलाना मशहूद खान नेपाली ने कहा कि उन्होंने कहा कि  शिक्षा तकनीकी और रोजगारोन्मुखी होनी चाहिए।उन्होंने अतिथियों के प्रति आभार ज्ञापित किया।


सिराजुल उलूम के प्रबन्धक मौलाना शमीम अहमद नदवी,अध्यक्ष डॉ मंजूर खान,उधमी राशिद मिर्ज़ा,आदि ने राज्य सरकार के प्रयासों व शिक्षानीति की सराहना की।

 542 total views,  2 views today